ताजा प्रविष्ठियां

Sunday, July 26, 2009

पढ़े लिखे अपराधी

जब तक भारत में शिक्षा दर कम थी लोग ज्यादातर अनपढ़ थे तो अशिक्षा को अपराधों का कारण माना जाता था । इसलिए शिक्षा को बढ़ावा दिया गया ,उसके बाद बेरोजगारी को अपराधों का कारण माना गया।
लेकिन आज की स्थितियां देखो तो सभी बड़े अपराध ,घोटाले से लेकर फर्जी मुठभेड़,किडनी व्यापार,रक्त व्यापार,ठगी,हत्या,बलात्कार , चोरी, रिश्वत खोरी व अन्य, उच्चशिक्षित अपराधियों द्वारा किए जा रहे हैं। आख़िर कारण क्या हैं,क्या हमारी शिक्षा में दोष है या शिक्षा ने संस्कार पीछे धकेल दिए । इस पर कौन ध्यान देगा ?
पहले से इतने अपराध तो नहीं होते थे ।

1 comment:

  1. सचमुच चिंतनीय मुद्दा है !!

    ReplyDelete

हिन्दी में कमेंट्स लिखने के लिए साइड-बार में दिए गए लिंक का प्रयोग करें