ताजा प्रविष्ठियां

Saturday, March 19, 2011

होली....... ऐसा जमाना कब आये

होली पर आप को परिवार के साथ शुभ कामनाएं
ये त्यौहार सबके जीवन में कमसेकम सौ बार आये
भी इसे बिना कीचड़ और दारू पिए मनाएं
जिससे भी को मजा आये, च्चे हों या हिलाएं

रंग में केव हर्बल गुला और टेशू के रं लगायें
पीने को केव दूध में बनी बिना भांग की ठंडाई पिलायें
मैं इंतजार में हूँ ....... ऐसा जमाना कब आये

6 comments:

  1. आपको भी परिवार सहित होली की बहुत-बहुत मुबारकबाद... हार्दिक शुभकामनाएँ!

    ReplyDelete
  2. आपको एवं आपके परिवार को होली की बहुत मुबारकबाद एवं शुभकामनाएँ.

    सादर

    समीर लाल

    ReplyDelete
  3. आपको सपरिवार होली की हार्दिक शुभकामनाएं

    ReplyDelete
  4. प्रियवर शंकर फुलारा जी

    रंग भरा स्नेह भरा अभिवादन !

    बहुत मनभावन है आपकी रचना … पढ़ कर आनन्द आया ।
    हमारे यहां तो ऐसा ज़माना आया हुआ ही है … आइए समय निकाल कर :)

    आपको सपरिवार होली की हार्दिक बधाई !


    ♥ होली की शुभकामनाएं ! मंगलकामनाएं !♥

    होली ऐसी खेलिए , प्रेम का हो विस्तार !
    मरुथल मन में बह उठे शीतल जल की धार !!


    - राजेन्द्र स्वर्णकार

    ReplyDelete
  5. ha ha ha
    bahut hi badiya
    happy holi to all

    ReplyDelete

हिन्दी में कमेंट्स लिखने के लिए साइड-बार में दिए गए लिंक का प्रयोग करें